Followers

Wednesday, January 2, 2019

कब लोगे खबर मेरे राम



भोर की बेला में खिले 
सुरभित सुमनों के सुन्दर हार
शीश पर चढ़ाने के लिए 
पावन निर्मल ओस का जल
चिरंतन प्रेम का जलता हुआ 
शाश्वत दीपक 
सम्पूर्ण निष्ठा से तैयार किया हुआ 
कोमल भावों का नेवैद्य
समर्पण के लिए सभी कुछ तो
करीने से सुसज्जित है
पूजा के थाल में 
कब आओगे प्रभु इस अर्ध्य को 
स्वीकार करने 
और इस जीवन को 
कृतार्थ करने ?



साधना वैद

No comments :