Followers

Monday, July 23, 2012

जाग जाओ


  
मत डरो 
साहस जुटाओ
जाग जाओ !
 
बीन कंटक  
राह अपनी
खुद बनाओ !
हो सबल, 
अबला नहीं तुम
जान जाओ !
 
मुक्त होवो 
बेड़ियों को
काट डालो !
 
चल पड़ो
निज शस्त्र धारो
अरि हराओ !
 
मत भजो
देवी बनो खुद
असुर मारो ! 
 
भाल पर
चंदन रचा 
मस्तक सजाओ !

साधना वैद