Followers

Tuesday, October 4, 2016

स्तुति - माँ के नौ रूपों की



शारदीय नवरात्रि की आप सभीको हार्दिक मंगलकामनाएं !
माँ का प्रथम स्वरुप - माँ शैलपुत्री

माँ अम्बे गौरी
शैलराज दुलारी
शक्ति दायिनी 

माता हमारी
वृषभ की सवारी
गहो प्रणाम 


माँ जगदम्बे
लगा दे नैया पार
गहूँ चरण 


हे शैलपुत्री
आई शरण तेरी
माता पार्वती 


करो स्वीकार
माता भक्ति अपार
मैं कृपाकांक्षी 


माँ आदिशक्ति
तू जगत जननी
बालक तेरे 


माँ का द्वितीय स्वरुप - माता ब्रह्मचारिणी




श्वेत वासना 
माता ब्रह्मचारिणी 
तुझे प्रणाम 

 शान्ति स्वरूपा 
मोक्ष प्रदायिनी माँ 
बाधा हरिणी 

कृपालु माता 
धैर्य, संयम, तप 
प्रदान करो 

दो ब्रह्म ज्ञान 
श्रम का वरदान 
जगदम्बिके 

तेजोमयी माँ 
करूँ पूजन तेरा 
भक्ति भाव से 

तपस्विनी माँ 
नियम साधना के 
सीखूँ तुमसे 



साधना वैद