Followers

Sunday, March 20, 2016

दर्द ने कुछ यूँ निभाई दोस्ती





दर्द ने कुछ यूँ निभाई दोस्ती
झटक कर दामन खुशी रुखसत हुई
मोतियों की थी हमें चाहत बड़ी
आँसुओं की बाढ़ में बरकत हुई !

साधना वैद