Followers

Wednesday, September 14, 2011

मंगलकामना


















है भावना मेरी प्रगति के
पुण्य पथ पर तुम बढ़ो ,
है कामना मेरी सफलता
के शिखर पर तुम चढ़ो ,
यह गान गौरव देव गण
गायें गगन में सर्वदा ,
औ' हों सुवासित दिक् दिशायें
कीर्ति सौरभ से सदा !

शुभकामनायें !

साधना वैद