Followers

Friday, October 18, 2019

आज खुशियों भरी दीवाली है

दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें !


हर घर के स्वागत द्वार पर
छोटे-छोटे दीपों का हार है
प्रभु की स्नेहिल अनुकम्पा का
यह अनुपम उपहार है !
उर अंतर का हर कोना
आज खुशियों के उजास से
जगमगा रहा है
दीप मालिकाओं का
उज्जवल प्रकाश
घनघोर तिमिर को परास्त कर
गगन के सितारों को भी
लजा रहा है !
आज मन से यही दुआ
उच्छ्वसित होती है कि
हर घर झिलमिल दीपों की
रोशनी में नहाया हो   
हर हृदय ने हर्ष और उल्लास से
आनंद के छोर को गहाया हो !  
हर अधर पर खुशी के तराने हों  
मन में बसे दुःख, अवसाद
हताशा और अन्धकार को
जला डालने के सारे बहाने हों !
उठी मेरे भी मन में
यही कामना मतवाली है
हर्ष और उत्साह से
सब त्यौहार मनायें
आज खुशियों भरी दीवाली है !

साधना वैद





20 comments :

  1. दीप पर्व सबके घर उजियारा लाये, इसी नेक भावना से रची सुन्दर प्रस्तुति
    आपको भी दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपका हृदय से बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार कविता जी ! सप्रेम वन्दे !

      Delete
  2. बेहद प्यारी रचना।
    ये त्यौहार खुशियों भरा हो सब के लिए।

    मेरी नई पोस्ट पर आपका स्वागत है 👉👉  लोग बोले है बुरा लगता है

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद रोहितास जी ! आभार आपका !

      Delete
  3. जी नमस्ते,
    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (२० -१०-२०१९ ) को " बस करो..!! "(चर्चा अंक- ३४९४) पर भी होगी।
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।

    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    आप भी सादर आमंत्रित है
    ….
    अनीता सैनी

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपका हृदय से बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार अनीता जी ! सप्रेम वन्दे !

      Delete

  4. जी नमस्ते,
    आपकी लिखी रचना हमारे सोमवारीय विशेषांक
    २१ अक्टूबर २०१९ के लिए साझा की गयी है
    पांच लिंकों का आनंद पर...
    आप भी सादर आमंत्रित हैं...धन्यवाद।,

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपका हृदय से बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार श्वेता जी ! सप्रेम वन्दे !

      Delete
  5. हर घर के स्वागत द्वारा पर छोटे- छोटे दीपों की हार है।बहुत ही सुंदर सटीक एवं सार्थक पंक्तियाँ।दिवाली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद सुजाता जी ! आभार आपका !

      Delete
  6. वाह!!साधना जी ,बहुत खूबसूरत रचना !आपको दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद शुभ्रा जी ! आपको भी दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएं ! दिल से आभार आपका !

      Delete
  7. बहुत सुन्दर विचार। आपको भी दीपावली ढेर सारी शुभकामनायें।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद प्रकाश जी ! आभाराप्का ! दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

      Delete
  8. बहुत ही सुन्दर लाजवाब...
    वाह!!!
    दीपावली ढेर सारी शुभकामनायें।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हृदय से बहुत बहुत आभार आपका सुधा जी ! दीपावली के हार्दिक मंगलकामनाएं आपको व समस्त परिवार को !

      Delete
  9. बहुत सुंदर। बधाई!!!

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक धन्यवाद विश्वमोहन जी ! आभार आपका ! दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं !

      Delete
  10. सुंदर शुभ विचारों वाली दीपपर्व की कविता। बधाई एवं शुभकामनाएँ साधना दी।

    ReplyDelete
    Replies
    1. हृदय से आपका बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार मीना जी ! दीपोत्सव की आपको भी सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएं !

      Delete